ओ लड़की, तू दबंग हो जा!

  • तेंतला में युवा ने मनाया बालिका दिवस, सावित्री बाई फुले को किया याद, मांदल की थाप पर थिरकी लड़कियां

  • रस्सी खींचों प्रतियोगिता में महिला पंचायत प्रतिनिधियों ने स्वंय सहायता समूह की महिलाओं को हराया

जमशेदपुर 24 जनवरी। सामाजिक संस्था यूथ यूनिटी फाॅर वोलंटरी एक्शन युवा ने क्रिया के सहयोग से तेंतला मैदान में बालिका दिवस मनाया।

इस अवसर पर खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। गुड़िया नायक नाम की लड़की ने ओ लड़की तू दबंग हो जा कविता का पाठ किया ,जिस पर महिलाओं  ने खूब तालियां बजायीं। समारोह में महिला पंचायत प्रतिनिधि,स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आई एम बी से जुडी लड़कियां शामिल थी ।

 समारोह के आरंभ में युवा की सचिव वर्णाली चक्रवर्ती ने बालिका दिवस के महत्व की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि लड़कियों को अपना हक छीन कर लेना होगा, तभी समाज से असमानता समाप्त हो सकती है।

क्रिया की सुचिस्मिता मंडल ने कहा कि सावित्री बाई फुले ने असमानता को दूर करने के लिए शिक्षा को हथियार बनाया। उसी तरह हमें भी सावि़त्री बाई फुले की राह अपनानी होगी।

युवा की अंजना देवगम ने सावित्री बाई फुले के बारे में विस्तार से बताया । इसके बाद सावित्री बाई से संबंधित क्विज का भी आयोजन किया गया।

कार्यक्रम को तेंतला पंचायत की मुखिया दीपांतरी सरदार, चांपी की पंचायत समिति सदस्य दुखनी माई सरदार, पूर्णिमा हेम्ब्रम,जुडी से पानो सरदार,करनडीह की कोकिला मुर्मू, लक्ष्मी सरदार,अवंती सरदार आदि ने संबोधित किया।  

कार्यक्रम में करनडीह की लडकियों ने मांदल बजाया,जिसके थाप पर सभी थिरके । बालिकाओं के लिए इन आउट एवं दौड प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

रस्सी खींचों प्रतियोगिता में महिला पंचायत प्रतिनिधियोंकी टीम ने स्वंय सहायता समूह की महिलाओं को परास्त किया। कार्यक्रम का संचालन कविता बिरुवा ने किया।

कार्यक्रम को सफल बनाने में अंजना देवगम,मोनिका प्रमाणिक,ज्योति हेम्ब्रम,चन्द्रकला मुंडा,कोकिला मुर्मू, प्रिया,ममता,गुरुचरण, अनिल बोदरा ने सक्रिय भूमिका निभायी।

(छायाकार- उत्तम आचार्जी)

Comments